Nanad Bhabhi Quotes in Hindi | ननद भाभी कोट्स

Nanad Bhabhi Quotes in Hindi: दोस्तों आज के इस लेख में हम ननद भाभी कोट्स आपके लिए लेके आए हैं। इस तरह की ननद भाभी कोट्स आपको और कही नहीं मिलेंगे। उम्मीद करते है की आपको हमारा ननद भाभी कोट्स पसंद आएगा।

Nanad Bhabhi Quotes in Hindi

nanad bhabhi quotes in hindi

भाभी तू जबसे आई हमारे आंगन में,
खुशियां लाई मेरे भाई के जीवन में,
हर नोक-झोंक को तुम करना नजर अंदाज,
माफ कर देना गर गलती हो जाए अनबन में।

भाभी आप मेरी ही नहीं पूरे घर की हैं जान,
दुआ है मेरी रब से पूरे हों आपके हर अरमान।

ननद के प्रेम से ही भाभी का रचता संसार है,
सासू मां भी अक्सर बहू में ढूंढती बेटी का प्यार है।

जब घर छोड़कर तुम होना पराई,
आंखों में आंसू भर हो तेरी विदाई,
उस बहन के सामने रखना अपने जज्बात,
जिसके भाई से हुई तेरी सगाई।

प्यार पाइए और प्यार लुटाइए,
आपसी सूझबूझ से ननद भाभी के,
रिश्ते को हर दिन मजबूत बनाइए।

बड़ी खूबसूरत है आप,
अच्छी लगती है आपकी हर मुस्कान,
बढ़िया आनंददायक होती है आपकी बातें,
चुटकियों में आसान कर देती हो मेरा हर काम।

ननदें होती हैं प्यारी, बनती हैं भाभी की सहेली,
साथ मिलकर दोनों घर में लाती हैं खुशहाली।

प्यार मिले मेरी ननद को इतना कभी न पड़े कम,
सदा खुशियों की ऊंचाइयों की ओर बढ़ते रहें आपके कदम।

जिस ननद ने कभी नहीं दुखाया भाभी का दिल,
उसी के परिवार में नहीं आती कभी कोई मुश्किल।

हर डाली पर तेरे जैसा महकता फूल खिले,
हर भाभी को तुम जैसी ननद कूल मिले।

सदा मुस्कुराता रहे मेरी ननद का चेहरा,
खुशियों से भरा हो उसका हर सवेरा,
दुआ मांगती हूं ईश्वर से यही,
जिस घर जाए, वहां हो खुशियों का बसेरा।

जिस घर में हो तुम जैसी ननद,
वहीं छाया रहता है आनंद,
नहीं होते कोई गिले-शिकवे,
भले ही सुविधा हो चंद।

ननद हो आप जैसी तो भाभी को,
नहीं होती किसी बात की कमी,
खुशियां रहें आपके जीवन में,
आंखों में न आए कभी नमी।

माना कि ननद-भाभी में कभी-कभी नोक-झोंक हो जाती है,
लेकिन मुश्किलों में दोनों एक-दूसरे के काम जरुर आती हैं।

ननद भाभी एक-दूसरे से अपनापन और प्यार चाहती हैं,
तकरार में भी कभी न हो दूरी, यही दोनों बार-बार चाहती हैं।

आज ननद की शादी का दिन आया है,
अपने संग सारी खुशियां लाया है,
शुक्र करती हूं मैं भगवान का,
उसी ने तुमको अच्छा इंसान बनाया है।

ननद भाभी का रिश्ता दोस्ती की बुनियाद पर खड़ा होता है,
न निभे तो कड़वाहट और निभ जाए, तो हर ईमान से बड़ा होता है।

खुशियों से भरा हो आपका यह सफर,
कभी न हो जिंदगी में दुखों का बसर,
आज ननद की भरी जाएगी मांग,
मैं खूब नाचूंगी हिला के कमर।

ननद ”भाभी” को एक-दूसरे की जिंदगी को “नियंत्रित” करने की,
कोशिश नहीं करनी चाहिए. इससे दोनों के रिश्ते कभी नहीं बिगड़ेंगे।

मेरी प्यारी भाभी मुझे आपसे बस यही कहना है,
जब से आप अपने माईके गयी हो तब से,
हमारा घर सूना-सूना रहने लगा हैं।

भाभी आप मेरी ही नहीं पूरे घर की हैं जान,
दुआ है मेरी रब से पूरे हों आपके हर अरमान।

अगर चाहती हो ननद भाभी के रिश्ते को अच्छे से निभाना,
तो कभी घर और परिवार पर एकाधिकार मत जताना।

ननद भाभी एक-दूसरे की जिंदगी को न करें नियंत्रित,
वरना घर में करेंगी कलह को आमंत्रित।

भाभी तू जबसे आई हमारे आंगन में,
खुशियां लाई मेरे भाई के जीवन में,
हर नोक-झोंक को तुम करना नजरअंदाज,
माफ कर देना गर गलती हो जाए अनबन में।

ननद भाभी का रिश्ता दोस्ती की बुनियाद पर खड़ा होता है,
न निभे तो कड़वाहट और निभ जाए, तो हर ईमान से बड़ा होता है।

भाभी जब से आपका आगमन हमारे इस घर में हुआ है,
कसम से तब से हमारा घर खुशियों से भर गया है।

जब घर छोड़कर तुम होना पराई,
आंखों में आंसू भर हो तेरी विदाई,
उस बहन के सामने रखना अपने जज्बात,
जिसके भाई से हुई तेरी सगाई।

हम सबके पास एक ऐसी ननद जरुर होती हैं जिसके साथ,
बातों में लग कर हम अपना घर का काम करना भूल जाते हैं।

ननद भाभी एक-दूसरे से अपनापन और प्यार चाहती हैं,
तकरार में भी कभी न हो दूरी, यही दोनों बार-बार चाहती हैं।

ननद-भाभी का रिश्ता होता हीं है अनोखा,
प्यार और तकरार से भरा. कुछ ननद-भाभी के,
रिश्ते बड़े मीठे होते हैं, तो कुछ के खट्टे. ननद-भाभी के,
रिश्ते अच्छे हों, तो परिवार की ताकत बन जाते।

दुनिया के रीति-रिवाजों का अलग ही कायदा है,
ननद भाभी साथ रहे इसी बात में ही फायदा है।

उस भाभी की झोली में भर देना प्यार,
जिसने छोड़ दिया अपना घर-बार,
वही सजाएगी तेरी डोली,
जब बारात आएगी दरबार।

मेरी प्यारी ननद जिस तरह आपने हमेशा ही,
अपने भईया की लंबी उम्र की कामना की है,
उसी तरह आपके जन्मदिन पर मैं आपके लिए,
एक लंबी व स्वस्थ जिंदगी की कामना करती हूं।

आज पेट्रोल पम्प पे गाड़ी की टंकी फुल क्या ”करवाई” पास खड़े,
आदमी की बीवी बोली अपनी ननद के लिए ये लड़का ठीक हैं।

हर ननद को एक प्यारी भाभी का इंतजार रहता है,
क्योंकि भाभी के दिल में भैया के लिए प्यार रहता है।

अच्छी ननद सबको चाहिए पर बनना नहीं चाहती,
यह हकीकत हैं दुनिया की और यही रीत हैं चलती आती।

घर में होती है ननद, तो काम करने में मजे आते हैं भाभी के,
खुले रहते हैं सारे ताले खुशियों के बिना चाबी के।

दुनिया के “रीति-रिवाजों” का अलग ही कायदा है,
ननद ”भाभी” साथ रहे इसी बात में ही फायदा है।

बेटी बहू में कोई भेद नहीं होता, ननद-भाभी का रिश्ता समझाता है,
बदलता वक्त रिश्तों के लिए नये मापदण्ड तय कर जाता है।

ना ननद और ना भाभी के लिए अच्छा होता है, रिश्ते में तनाव का घुलना,
मीठा रिश्ता चाहो, तो एक-दूसरे किसी शिकायत किसी और से ना करना।

जब घर ले आना तुम प्यारी भाभी,
सौंप देना उसको जिम्मेदारी की चाबी,
करना पड़ता है बहुत त्याग,
आसान नहीं यह ज्ञान किताबी।

ननद भाभी का रिश्ता उम्र भर निभाना पड़ता है,
छोटी-छोटी बातों को भूल जाना पड़ता है।

हंसी-मजाक से भरा होता है ननद भाभी का रिश्ता,
अच्छे-बुरे दौर में साथ खड़े रहना सिखाता है यह रिश्ता,
एक-दूसरे की गलतियों को कर देना माफ,
सुखी परिवार की नींव रख देता है यह रिश्ता।

बड़ी खूबसूरत हैं भाभी आप,
अच्छी लगती है आपकी मुस्कान,
प्यार बरसाती हैं आपकी बातें,
चुटकियों में आसान कर देती हैं हर काम।

ना तो ननद को और ना ही भाभी को हर,
चीज में यह चाहना चाहिए कि सब कुछ उनके हीं अनुसार हो।

उस भाभी की झोली में भर देना प्यार,
जिसने छोड़ दिया अपना घर-बार,
वही सजाएगी तेरी डोली,
जब बारात आएगी दरबार।

बहू बेटी में कोई भेद नहीं होता,
हर झगड़े का मतलब मतभेद नहीं होता,
दोनों को मिलना चाहिए एक जैसा सम्मान,
क्योंकि सफेद-काला भी अब रंग भेद नहीं होता।

जिस घर में ननद और भाभी दोनों,
को सम्मान मिलता है उस घर में दुखो के बादल कम गरजते है।

ननद बड़ी हो, तो भुला देती है हर बात को,
छोटी हो, तो छिपा लेती है हर बात को,
हाथ बढ़ा कर लेनी चाहिए दोस्ती,
र ननद भाभी मिलकर संभालेंगी हर बात को।

बेटी बहू में कोई भेद नहीं होता, ननद-भाभी का रिश्ता समझाता है,
बदलता वक्त रिश्तों के लिए नये मापदण्ड तय कर जाता है।

हर ननद को एक प्यारी भाभी का इंतजार रहता है,
क्योंकि भाभी के दिल में भैया के लिए प्यार रहता है।

माना कि ननद-भाभी में कभी-कभी नोक-झोंक हो जाती है,
लेकिन मुश्किलों में दोनों एक-दूसरे के काम जरुर आती हैं।

भइया-भाभी, ननद-देवर,
यही तो हैं घर के जेवर,
कभी न आएगी इनमें दूरी,
गर दिखाए न एक-दूजे को तेवर।

न ननद, न भाभी के लिए अच्छा होता है रिश्ते में तनाव का घुलना,
मेरी मानो, तो एक-दूसरे की शिकायत किसी और से न करना।

ये जो लोग हम बहनों पे अपना हुकुम चलाते,
हैं और हमें डांट के अपना काम करवाते हैं न,
उसी का बदला हम लोग भाभियों से लेते हैं,
फिर आप लोग बोलते हैं की ननद बुरी होती हैं।

आपकी सौम्यता, दयालुता और मुस्कान मुझे,
ऐसा महसूस कराती है जैसे दुनिया में कोई चिंता नहीं है।

ननद भाभी दोनों को एक-दूसरे की,
भूमिका और महत्व को जरुर समझना चाहिए।

बहुत अच्छी है आप,
कभी नहीं दुखाया भाभी का दिल,
हर काम में करवाती हो सहयोग,
सदा रहती हो हिलमिल,
दुआ है मेरी भगवान से कि,
आपके जीवन में कभी ना आए कोई मुश्किल।

उम्मीद करते है की, आपको यह हमारा ननद भाभी कोट्स आपको जरूर पसंद आया होगा। आप हमारा यह लेख अपने मित्रो के साथ साझा कर सकते है।

Leave a Comment