Two Line Quotes in Hindi | दो लाइन कोट्स हिंदी में

Two Line Quotes in Hindi: दोस्तों आज के इस लेख में हम दो लाइन कोट्स आपके लिए लेके आए हैं। इस तरह की दो लाइन कोट्स आपको और कही नहीं मिलेंगे। उम्मीद करते है की आपको हमारा दो लाइन कोट्स पसंद आएगा।

Two Line Quotes in Hindi

two line quotes in hindi

तुम सामने आये तो अजब तमाशा हुँआ,
हर शिकायत ने जैसे खुदखुशी कर ली।

मेरे इरादे तक़दीर बदलने के लिए बहुत है,
मेरी मेहनत मेरी लकीरों बदलने के लिए बहुत है।

जो था वो रहा नहीं,
जो हूँ वो किसी को पता नहीं।

तुमने तो रिहा कर दिया था खुद हमे लेकिन,
हम साथ लिए फिरते हैं जंजीर तुम्हारी।

बहोत शरीफ हूँ मै,
जब तक कोई ऊँगली ना करे।

कुछ सही तो कुछ खराब कहते है,
लोग हमें बिगड़ा हुआ नवाब कहते है।

अब कहा जरुरत है हाथों मे पत्थर उठाने की,
तोडने वाले तो जुबान से ही दिल तोड देते।

तू रख यकीन बस अपने इरादों पर,
तेरी हार तेरे हौसलों से तो बड़ी नहीं होगी।

घंटो चलकर भी वो सफ़र मुक़म्मल नहीं हुआ,
जो तेरे साथ कभी लम्हा लगता था ।

सही वक्त पर करवा देंगे हदों का एहसास,
कुछ तालाब खुद को समंदर समझ बैठे है।

मेहनत अगर लगन से की जाये,
तो अच्छे परिणाम मिलना तय होता हैं।

आशियाने बनें भी तो कहाँ जनाब,
जमीनें महँगी हो चली हैं और दिल में लोग जगह नहीं देते।

माँ ने दूध में ज़रा सा पानी मिलाया था,
बच्चे दो थे हिसाब लगाया था।

ज़िन्दगी सारी ख़त्म होने वाली है,
अब जिम्मेदारियों से राब्ता होने वाला है।

वो लड़ रहे है ताकि हम पर राज़ कर सके,
हम लड़ रहे है ताकि खुद पर नाज़ कर सके।

रात में हैवान दिन में इंसान बने बैठे हैं,
कुछ ऐसे भी भगवान बने बैठे हैं।

मैं ‘गलती’ करूँ तब भी मुझे ‘सीने’ से लगा ले,
कोई’ ऐसा चाहिये, जो मेरा हर ‘नखरा’ उठा ले।

मन बावला सा है दिल थोड़ा उदास है,
आँखे नम सी है पर चेहरे पे मुस्कुराहट अब भी बरक़रार है।

मैं इज़हार करूँ तो’ना’ भी हो सकती है,
तुम इज़हार करो’हाँ’ की जिम्मेदारी मेरी।

ए नसीब ज़रा एक बात तो बता,
तू सबको आज़माता है,या मुझसे ही दुश्मनी है।

निग़ाहों से भी चोट लगती हैं ज़नाब,
ज़ब कोई देखकर भी अनदेखा कर दे।

तुम्हारी दुनिया में हमारी चाहे कोई किमत ना हो,
मगर हमने हमारी दुनिया में तुम्हे रानी का दर्जा दे रखा है।

खुदा तो इक तरफ, खुद से भी कोसों दूर होता है,
इंसान जिस वक्त ताकत के नशे में चूर होता है।

किसी ने कहा आपकी आँखे बड़ी खूबसूरत है,
मैने कह दिया कि, बारिश के बाद अक्सर मौसम सुहाना हो जाता है।

कुछ दोस्त सीधे सादे भी अच्छे नहीं लगते,
और कुछ कमीने जान से भी प्यारे होते हैं।

मेरी निगाहों में किन गुनाहों के निशां खोजते हो,
अरे मैं इतना भी बुरा नही जितना तुम सोचते हो।

खूबसूरत हैं रास्ते अगर तुम साथ दो,
बिना हमसफर इस सफ़र पर कौन चले ।

मोहब्बत का एहसास तो हम दोनों को हुआ था,
फर्क सिर्फ इतना था की उसने किया था और मुझे हुआ था।

उन्हे फिर से मोहब्बत हुई हैं ये कहते है सभी,
भला दूसरी बारिश पर मिट्टी महकी हैं कभी।

विजेता वो नही बनते जो कभी असफल नही,
हुए बल्कि वो बनते है जो कभी हार नहीं मानते।

हौसले भी किसी हकीम से कम नहीं होते,
हर तकलीफ़ में ताकत की दवा देते हैं।

इतना ही गुरुर था तो मुकाबला इश्क का,
करती ऐ बेवफा हुस्न पर क्या ईतराना जिसकी,
ओकात ही बिस्तर तक हौ।

हुकुमत वो ही करता है जिसका दिलो पर राज होता है,
वरना यूँ तो गली के मुर्गों के सर पे भी ताज होता है।

कुछ दोस्त सीधे सादे भी अच्छे नहीं लगते,
और कुछ कमीने जान से भी प्यारे होते हैं।

प्यार करो तो कोई एक से करो,
जिस से भी करो कोई नेक से करो।

शौक पूरे करो जिंदगी तो,
एक दिन खुद पूरी हो जाएगी।

जिद में आकर उनसे ताल्लुक तोड़ लिया हमने,
अब सुकून उनको नहीं और बेकरार हम भी हैं।

मेरे बारे में अपनी सोच को थोड़ा बदलकर तो देख,
मुझसे भी बुरे है लोग, तू घरसे निकलकर तो देख।

जिसे निभा न सकूँ ऐसा वादा नहीं करता,
दावा कोई औकात से ज्यादा नहीं करता।

तुमसे मिला नहीं हूँ बस बात की है,
अब तुम ही दिख रही हो हर जगह ये तुमने कैसी बात की है।

मैं मंज़िल तलक साथ ले जाऊँगा तुम्हे,
सफ़र में छोड़ जाना मेरी फ़ितरत नहीं।

अब कहाँ जरुरत होती है हाथों मे पत्थर उठाने की,
तोडने वाले तो बस जुबां से दिल तोड़ देते हैं।

“वफादार और तुम.? ख्याल अच्छा है,
बेवफा और हम.? इल्जाम भी अच्छा है।

बेमिशाल है यूँ आपका शायरी में मुझे लिखना,
वरना तो सबने मुझे सदा बेजुबां ही माना है।

आदमी बड़ा हो या छोटा कोई फर्क नहीं पड़ता,
उसकी कहानी बड़ा होना चाहिए।

तुम्हारा दबदबा लोगों यहाँ सिर्फ ज़िंदगी तक है,
किसी की कब्र के अंदर ज़मींदारी नहीं चलती।

ये जो हलकी सी फ़िक्र करते हो न हमारी,
बस इसलिए हम बेफिक्र रहने लगे हैं।

देख लेते तुम तो फिर इकरार हो जाता,
उलझनें मिट जाती और प्यार हो जाता।

अगर इरादों में जान हो तो मंजिल तक,
आसानी से पहुँचा जा सकता हैं।

रोते-रोते थककर जैसे कोई बच्चा सो जाता है,
हाल हमारे दिल का अक्सर कुछ ऐसा ही हो जाता है।

कितुने नादान थे हम, जो लोगों मे फ़रिश्ते ढूंढने चले थे,
यहाँ तो लोगों में इंसानियत की ही कमी पड़ रही है।

रूठा हुआ है मुझसे इस बात पर ज़माना,
शामिल नहीं है मेरी फ़ितरत में सर झुकाना।

तुम्हारे साथ जीना चाहते हैं हम,
मगर तुम पर मरना नहीं छोड़ेंगे हम।

तुझे अगर मेरी जिंदगी में शामिल होना है,
तो अपनाओ मुझे मेरी हर कमी के साथ।

हम दुश्मनों को भी बड़ी जानदार सजा देते हैं,
आवाज़ नहीं उठाते बस नजरो से गिरा देते हैं।

इस बार वो मुझे लुटे तो पूरी तरह लुटे,
आवाज़ ना आये मगर दिल से पूरी तरह टूटे।

शांत हम समन्दर जैसे, गुस्सा हमारा सुनामी है,
इसी तेवर के चक्कर में दुनिया हमारी दीवानी है।

अब हम भी कुछ मोहब्बत के गीत गुनगुनाने लगे हैं,
जब से वो हमारे ख्वाबो में आने लगे हैं।

मंज़िल पाना तो बहुत दूर की बात हैं,
गुरूर में रहोगे तो रास्ते भी न देख पाओगे।

आँधियाँ हसरत से अपना सर पटकती रहीं,
बच गए वो पेड़ जिनमें हुनर लचकने का था।

वफादार और वो भी तुम? ख्याल बहुत अच्छा है,
बेवफा और वो भी हम? इल्जाम बहुत अच्छा है।

विपरीत परिस्थितियों में कुछ लोग टूट जातें है,
और कुछ रिकार्ड तोड़ जातें हैं।

कौन डूबेगा किसे पार उतरना है ज़फ़र,
फ़ैसला वक़्त के दरिया में उतर कर होगा।

नींद चुराने वाले पूछते हैं सोते क्यों नही,
इतनी ही फिक्र है तो फिर हमारे होते क्यों नही।

तेरे बगैर किसी और को देखा नहीं मैंने,
सूख गया तेरा गुलाब मगर फ़ेका नहीं मैंने।

कमाल का ताना मारा आज दिल ने,
की अगर कोई तेरा है तो कहा है। I

मर रही है इंसानियत यहाँ,
धर्म जो अमर हो रहा है,
कोई शौक़ कोई ग़म कोई डर पाल लो,
मोहब्बत से बेहतर कोई ज़हर पाल लो।

बे-फिजूली की जिंदगी का सिल-सिला अब ख़त्म,
जिस तरह की है दुनिया अब उस तरह के हम।

पता नहीं कितना प्यार हो गया हैं तुमसे,
नाराज़ होने पर भी तुम्हारा ही याद आता हैं।

फर्क था हम दोनों की मोहब्बत,
में मुझे उस से ही था और,
उसे मुझसे भी था।

चला था साथ वो मेरे ख़ूबसूरत था सफ़र,
अंदाज़ा नहीं था कि छोड़ जाएगा इस क़दर।

बीता हुआ वक्त गवाही दे या न दे,
आनेवाला वक्त सलामी जरूर देगा।

हक़ से दो तो तुम्हारी नफरत भी कबूल कर लूंगा,
खैरात में तो किसी हसीना की मोहब्बत भी नहीं लूंगा।

लोग जिस हाल में मरने की दुआ करते हैं,
मैंने उस हाल में जीने की क़सम खाई है।

ये जो हालात है, यकीनन एक दिन सुधर जाएंगे,
पर अफसोस के कुछ लोग दिल से उतर जाएंगे।

तलब की राह में पाने से पहले खोना पड़ता है,
बड़े सौदे नज़र में हो तो छोटा होना पड़ता है।

एक अर्शे बाद उनको हमारी याद आयी,
दिल खुश तो हुआ न जाने क्यों आँख भर आयी।

मेरी वफाओ को ठुकरा देने वाले,
काश तुझे भी किसी बेवफा से प्यार हो जाये।

मैं अकेला ही चला था मंज़िल की ओर मगर,
लोग साथ आते गए और कारवाँ बनता गया।

प्यार वो नहीं जो हासिल करने के लिए कुछ भी करव दे,
प्यार वो है जो उसकी खुशी के लिए अपने अरमान चोर दे।

मेरी वफाओं को ठुकरा देने वाले,
काश! तुझे भी कभी किसी बेवफा से प्यार हो जाए।

जो इंसान आपको खुश रख सकता है,
उससे ज्यादा परफैक्ट आपके लिए कोई नहीं हो सकता।

मेरा बुरा चाहने वालो समझ लो तुम्हारी मौत आई है,
क्यूंकि यमराज तो अपना छोटा भाई है।

अगर किसी भी कार्य की शुरुवात एक ख़ुशी,
मन से की जाये तो वो जरूर सफल होता हैं।

हल्की हल्की सी फ़िक्र करने लगे हैं वो मेरी,
अब शायद हल्की हल्की सी मोहब्बत,
मुझे भी हो जाए उनसे।

झुकी झुकी सी नज़र बेक़रार है की नहीं,
दबा दबा सा सही दिल में प्यार है की नहीं।

रंजिश ही सही दिल ही दुखाने के लिए आ,
आ फिर से मुझे छोड़ के जाने के लिए आ।

हल्की हल्की सी फ़िक्र करने लगे हैं वो मेरी,
अब शायद हल्की हल्की सी मोहब्बत,
मुझे भी हो जाए उनसे।

अपने हाथों की लकीरों को क्या देखते हो,
किस्मत तो उनकी भी होती है, जिनके हाथ नहीं होते।

बेहतरीन ज़िंदगी को चलाने के लिए,
एक अच्छा पार्टनर यानी,
एक अच्छे हमसफ़र का होना बहुत जरूरी होता हैं।

इतना एटिट्यूड मत दिखा जाने मन,
क्योंकि, तेरी जवानी से ज्यादा हमारे तेवर गरम है।

उम्मीद करते है की, आपको यह हमारा दो लाइन कोट्स आपको जरूर पसंद आया होगा। आप हमारा यह लेख अपने मित्रो के साथ साझा कर सकते है।

Leave a Comment