Happiness Quotes in Hindi | प्रसन्नता पर सुविचार

Happiness Quotes: दोस्तों आज के इस लेख में हम प्रसन्नता पर सुविचार आपके लिए लेके आए हैं। इस तरह की प्रसन्नता पर सुविचार आपको और कही नहीं मिलेंगे। उम्मीद करते है की आपको हमारा प्रसन्नता पर सुविचार पसंद आएगा।

Happiness Quotes in Hindi

happiness quotes in hindi

झूठ का कद कितना भी ऊँचा क्‍यो न हो,
सत्‍य के मुक़ाबले में छोटा ही होता है।

इस जीवन में केवल एक ही खुशी है,
प्यार करना और बस प्यार करना।

ख़ुशी का राज़ आज़ादी है,
आज़ादी का राज़ हौसला है।

मौज लो और रोज लो,
अगर ना मिले तो खोज लो।

जो छोटी-छोटी बातों से भी खुशी खोजता है,
यकीन मानो वह हमेशा ही खुश रहता है।

जीवन की सबसे बड़ी ख़ुशी,
उस काम को करने में हैं,
जिसे लोग कहते हैं,
तुम नहीं कर सकते।

अगर जीवन में ख़ुशी चाहते हो तो,
लोगो की बातों को दिल से लगाना छोड़ दो।

अपने जीवन में सदैव खुशियां बाटना सीखे,
खुशियां छीनना नहीं।

ख़ुशी के लिए काम करोगे तो ख़ुशी नही मिलेगी,
लेकिन खुश होकर काम करोगे तो ख़ुशी ज़रूर मिलेगी।

जिस पल के लिए आप खुश हो जाओ,
वही पल आपका जीवन है।

ख़ुशी किसी भी बाहरी स्थितियों पर निर्भर नही करती,
यह हमारे मानसिक द्रष्टिकोण पर निर्भर करती है।

जैसे एक मोमबत्ती से हजारों मोमबत्तियां जलाने से,
भी मोमबत्ती जा जीवन कम नहीं होता,
वैसे ही खुशी बांटने से कम नहीं होती।

लोगों को छोटी-छोटी चीजों में,
खुशी ढूंढनी चाहिए, जैसे परिवार।

खुशी और शांति अंदर से आती है,
बाहर ढूँढने से नहीं।

चेहरे पर एक मुस्कान ही काफी होती है,
अपने गमों से उभरने के लिए।

आपका खुश रहना ही,
आपके दुश्मन के लिए सबसे बड़ी सजा है।

इस जीवन में केवल एक ख़ुशी है, प्यार करना और प्यार पाना।

छोटी-छोटी खुशियां ही तो जीने का सहारा बनती हैं,
ख्वाहिशों का क्या वो तो पल-पल में बदलती हैं।

जिंदगी को खुश रहकर जियो,
क्योंकि रोज शाम सिर्फ सूरज जी नहीं,
ढलता आपकी अनमोल जिंदगी भी ढलती है।

खुद को महत्व देना सीखो और अपनी खुशियों के लिए लड़ो।

प्रसन्नता शब्द अपना मतलब खो देता है,
यदि उसे दुःख से संतुलित नही किया जाये।

जिस पल आप खुश होते हैं,
सिर्फ उसी पल अपनी ज़िन्दगी जीते हैं,
इसलिए पूरी ज़िन्दगी ख़ुशी से जीने के लिए,
ज़िन्दगी का हर पल जियें।

आपके दुश्मनों को दी जाने वाली,
सबसे खतरनाक सजा है आपकी ख़ुशी।

हर किसी को खुश रखना शायद हमारे बस में नही है,
लेकिन हमारी वजह से किसी को दुःख न पहुँचे ये हमारे बस में ज़रूर है।

किसी और को खुश करने के,
प्रयास का सह-उत्पाद ख़ुशी है।

जब जब आपको यकीन होगा खुदा आपके साथ है,
फ़र्क नहीं पड़ता फिर को आपके खिलाफ है।

सुनो,
मत करना भरोसा गैरों पर,
क्योंकि चलना तुम्हे है,
अपने ही पैरों पर।

पैसे को दिमाग में रखने के बजाय जेब में,
रखो यकीन मानो जिंदगी में खुश रहना सीख जाओगे।

बातों में कुछ नहीं रखा,
करना तो पड़ेगा कुछ ऐसा काम,
अगर कुछ पाने के बाद कुछ कहोगे,
तो सारी दुनिया करेगी सलाम।

ख़ुशी के लिए काम करोगे तो ख़ुशी नही मिलेगी,
लेकिन खुश होकर काम करोगे तो ख़ुशी ज़रूर मिलेगी।

रिश्तों को हमेशा इज्जत और सम्मान देना,
क्युकी रिश्तों में दरार,
दूर रहने से नहीं इज्जत ना देने से आती है।

आपका खुश रहना ही,
आपके दुश्मन के लिए सबसे बड़ी सजा है।

आपकी ख़ुशी आपके Attitude पर निर्भर करता है,
आपके पास क्या है उस पर नहीं।

पैसा आपके लिए खुशियाँ नही खरीद सकता,
लेकिन वो दुःख को कुछ सुखद रूप में अनुभव करा सकता है।

खुद की होठों पर मुस्कुराहट,
रख लो दुनिया हँसती नजर आएगी।

दुनिया में सबसे ज्यादा खुश व्यक्ति वो हैं जो अपनी,
खुशी से ज्यादा दूसरों की खुशी को बढ़ावा देते हैं।

सबसे बड़ी ख़ुशी जो आपको मिल सकती है,
वह है यह जानना कि असल में आपको खुशी की ज़रूरत ही नहीं है।

ख़ुशी ही केवल एक ऐसी चीज़ है,
जिसे आप अभी महसूस कर सकते हैं,
उस चीज़ को पाने के बारे में सोचें जिसे,
आप पूरे दिल से चाहते हैं।

खुश रहने के लिए सबसे महत्वपूर्ण बात यह है,
कि आप अपने जीवन का आनंद लें यह सबसे ज़्यादा मायने रखता है।

झूठ का कद कितना भी लंबा हो,
लेकिन सच के सामने हमेशा बोना ही रहेगा।

हर किसी को खुश रखना शायद हमारे वश में ना हो,
पर किसी को हमारी वजह से दुःख ना पहुंचे ये हमारे वश में है।

काटो की तो फितरत चुभना ही है,
गलती आपकी है जो सम्भलके नहीं चले।

दोस्तों कभी निराश मत होना,
यह जिंदगी कहीं से भी अच्छा मोड़ ले सकती है।

छोटी छोटी खुशियां ही तो जीने का सहारा बनती है,
ख्वाहिशों का क्या वो तो पल-पल बदलती है।

दो बातों की गिनती करना छोड़ दे,
खुद का दुःख और दूसरों का सुख,
जिंदगी आसान हो जाएगी।

खुश रहना हो तो, एक बात स्वीकार कर लो,
ना मिले कोई आपके जैसा तो, खुद से प्यार कर लो।

खुश रहने का बस एक ही मंत्र है,
उम्मीद बस खुद से रखो किसी और इंसान से नहीं।

जिस तरह एक ही चुटकुले पर दोबारा हंसी नहीं आती,
तो फिर एक ही दुख,
दोबारा मिलने पर हम परेशान क्यों हो जाते है।

खुश रहना चाहते हो तो दूसरों पर निर्भर रहना छोड़ दो।

खुशी तब होती है जब आप क्या सोचते हैं,
आप क्या कहते हैं,और आप जो करते हैं वह सामंजस्य होता है।

आपके जीवन की प्रसन्नता (happiness) आपके,
विचारों की गुणवत्ता पर निर्भर करती है।

सारी ख़ुशी या दुःख पूरी तरह से इस पर निर्भर करता है,
जिस चीज़ से हम प्रेमपूर्वक जुड़े हैं, वह किस प्रकार की है।

कोई फर्क नही पड़ता कितनी बुरी चीज़े हैं,
आप कम से कम इतने में ही खुश रह सकते हैं।

यह जिंदगी छोटी सी है इसे हंसकर जिओ,
क्योंकि लौटकर यादें आती है, वक्त नही।

किसी के चेहरे की खुशी को अपनी,
खुशी समझना शायद इसी का नाम प्यार है

हर अँधेरी रात के बाद सवेरा ज़रूर आता है,
थोड़ा सब्र रखिये खुशियाँ भी ज़रूर आएँगी।

दौलत की तरह ख़ुशी भी प्रत्यक्ष रूप से नही मिलती,
यह किसी उपयोगी सेवा के फलस्वरूप ही मिलती है।

जरूरी नहीं कि मिठाई खिलाकर ही,
दूसरों का मुंह मीठा करें,
आप मीठा बोलकर भी लोगों को खुशियां दे सकते हैं।

सबसे पहले उस इंसान को खुश करो,
जिसे आप रोज आईने में देखते हैं।

सबसे खुश व्यक्ति वह हैं जो दूसरों,
की खुशी को बढ़ावा देता हैं।

बेवजह खुश रहो तो आधी दुनिया को खुशी बांटी,
जा सकती हैं लोग अपनी खुशी की वजह ढूँढते हैं,
खुश रहने के लिए वक्त तय करते हैं जबकि ऊपर,
वाले ने खुशी हमारे मूल स्वभाव में दी हैं।

अपनी चाहत की चीजों को पाने के साथ साथ,
जो चीज़े आपके पास हैं उन्ही के साथ खुश रहना सीखे।

खुशियां बटोरते बटोरते उमर गुजर गई, पर खुश ना हो सके,
एक दिन एहसास हुआ कि खुश तो वो लोग थे जो खुशियां बांट रहे थे।

जिन लोगों की सोच सकारात्मक होती है,
उन्हें मुश्किल कामों में भी सफलता मिलती है।

मुफ्त में नहीं सीखा गम में मुस्कुराने का,
हुनर बदले में जिंदगी की हर खुशी तबाह की है हमने।

प्रसन्नता वो पुरस्कार है जो हमारी समझ के अनुरूप,
सबसे सही जीवन जीने पर मिलता है।

दुनिया में सबसे ज्यादा खुश व्यक्ति वो है,
जो अपनी ख़ुशी से ज्यादा दुसरो की ख़ुशी को बढ़ावा देता हो।

खुशियां बनी बनायीं नहीं मिलती यह सिर्फ हम पर निर्भर करता है।

वाफिक तो मैं भी हूँ,
दुनिया के तौर-तरीकों से,
पर जिद्द तो यहां हिसाब से जीने की हैं।

सभी गलत काम मन से उपजते हैं,
अगर मन ही बदल जाए तो हम गलत काम करेंगे ही नहीं।

अपने अंदाज में जिओ,
दूसरों को नजर अंदाज करके।

अपनी अपेक्षा कम भाग्यवान व्यक्ति से,
अपने सुख के विषय में बात मत करों।

अपने साथियों द्वारा प्यार किए जाने और,
यह महसूस किये जाने कि आपका होना,
उनके सुख में इज़ाफा है, से बढ़कर कोई और ख़ुशी नहीं होती।

अपने साथियों द्वारा प्यार किए जाने और यह महसूस किये,
जाने कि आपका होना उनके सुख में इज़ाफा है,
से बढ़कर कोई और ख़ुशी नहीं होती।

खुश रहने का रहस्य स्वतंत्रता है,
और स्वतंत्रता का रहस्य साहस है।

जीवन में आप कितने खुश है ये महत्वपूर्ण नही है,
बल्कि आपकी वजह से कितने लोग खुश हैं ये महत्वपूर्ण है।

ख़ुशी आपको तब ही मिलती है जब आप,
जो सोचते हैं, जो कहते हैं और जो करते हैं उसमे समानता हो।

जिस प्रकार अर्जन के बिना सम्पति के उपभोग का अधिकार हमकों नहीं हैं,
उसी प्रकार बिना सुख के उत्पादन सुखी होने का अधिकार हमकों नही हैं।

खुशी तो नहीं हम तो गम चाहते हैं,
खुशी उसको ही दे दो जिसे हम चाहते हैं।

मुस्कान ईश्वर का दिया हुआ, सबसे बडा उपहार हैं,
दुखी होकर इसकी अवहेलना ना करें।

खुद को इतना कमजोर मत होने दो,
की तुम्हे किसी के एहसान की जरुरत हो..

खुश रहने का सुनिश्चित नुस्खा है,
कि तुम्हारे पास इतनी फुरसत न हो कि,
तुम यह विचार कर सको कि मैं दुखी हूँ या सुखी हूँ।

दूसरो से ज्यादा उम्मीद नही रखनी चाहिए,
क्योकि लोग बिना मतलब के भगवान् को भी याद नही करते हैं।

कोई देख न सका उसकी बेबसी जो,
साँसे बेच रहा है गुब्बारों में भरकर।

काँटों के बीच रहकर गुलाब की तरह मुस्कुराना जिन्दगी हैं।

हर किसी को खुश रखना शायद,
हमारे बस में नही है,
लेकिन हमारी वजह से किसी को,
दुःख न पहुँचे ये हमारे बस में ज़रूर है।

उम्मीद करते है की, आपको यह हमारा प्रसन्नता पर सुविचार आपको जरूर पसंद आया होगा। आप हमारा यह लेख अपने मित्रो के साथ साझा कर सकते है।

Leave a Comment